Latest shero shayari (शेरो शायरी) In English

On this page, we have a large collection of ,new shero shayari, sher shayari, शेरो शायरी,shero shayari in Hindi,shero shayari in hindi,shero shayari in english,. You can choose or select any type of shero shayari based on your mood and share it wherever you want.

Also checkout our shero shayari App

𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐚 𝐍𝐚𝐚𝐦 𝐀𝐚𝐲𝐚 𝐀𝐮𝐫 𝐇𝐮𝐦 𝐓𝐚𝐤𝐧𝐞 𝐋𝐚𝐠𝐞 𝐑𝐚𝐬𝐭𝐚
𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐢 𝐘𝐚𝐚𝐝 𝐀𝐚𝐲𝐢 𝐀𝐮𝐫 𝐊𝐡𝐢𝐝𝐤𝐢 𝐊𝐡𝐨𝐥 𝐃𝐢 𝐇𝐮𝐦𝐧𝐞
तुम्हारा नाम आया और हम ताकने लगे रास्ता
तुम्हारी याद आई और खिड़की खोल दी हमने

𝐂𝐡𝐞𝐡𝐫𝐚 𝐇𝐚𝐬𝐞𝐞𝐧 𝐆𝐮𝐥𝐚𝐛𝐨 𝐒𝐞 𝐌𝐢𝐥𝐭𝐚 𝐉𝐮𝐥𝐭𝐚 𝐇𝐚𝐢
𝐍𝐚𝐬𝐡𝐚 𝐏𝐞𝐞𝐧𝐞 𝐒𝐞 𝐉𝐲𝐚𝐝𝐚 𝐓𝐮𝐦 𝐊𝐨 𝐃𝐞𝐤𝐡𝐧𝐞 𝐒𝐞 𝐂𝐡𝐚𝐝𝐡𝐭𝐚 𝐇𝐚𝐢

चेहरा हसीं गुलाबो से मिलता जुलता है
नशा पीने से ज्यादा तुम को देखने से चढ़ता है

𝐌𝐮𝐣𝐡𝐦𝐞 𝐁𝐞 𝐈𝐧𝐭𝐞𝐡𝐚 𝐌𝐨𝐡𝐚𝐛𝐛𝐚𝐭 𝐊𝐞 𝐒𝐢𝐰𝐚 𝐊𝐮𝐜𝐡 𝐁𝐡𝐢 𝐍𝐚𝐡𝐢
𝐓𝐮𝐦 𝐀𝐠𝐚𝐫 𝐂𝐡𝐚𝐡𝐨 𝐓𝐨 𝐒𝐚𝐧𝐬𝐨 𝐊𝐢 𝐓𝐚𝐥𝐚𝐬𝐡𝐢 𝐋𝐞𝐥𝐨
मुझमे बे इन्तहा मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं
तुम अगर चाहो तो सांसो की तलाशी लेलो

𝐃𝐢𝐥 𝐌𝐞 𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐢 𝐀𝐩𝐧𝐢 𝐊𝐚𝐦𝐢 𝐂𝐡𝐨𝐫 𝐉𝐚𝐲𝐞𝐧𝐠𝐞
𝐀𝐚𝐧𝐤𝐡𝐨 𝐌𝐞 𝐈𝐧𝐭𝐞𝐳𝐚𝐚𝐫 𝐊𝐢 𝐋𝐚𝐤𝐞𝐞𝐫 𝐂𝐡𝐨𝐫 𝐉𝐚𝐲𝐞𝐧𝐠𝐞
दिल में तुम्हारी अपनी कमी छोड़ जायेंगे
आँखों में इंतज़ार की लकीर छोड़ जायेंगे

𝐀𝐣𝐞𝐞𝐛 𝐊𝐚 𝐏𝐲𝐚𝐫 𝐓𝐡𝐚 𝐔𝐬𝐤𝐢 𝐔𝐝𝐚𝐬 𝐀𝐚𝐧𝐤𝐡𝐨 𝐌𝐞
𝐌𝐞𝐡𝐬𝐮𝐬 𝐓𝐚𝐤 𝐍𝐚 𝐇𝐮𝐚 𝐊𝐢 𝐌𝐮𝐥𝐚𝐤𝐚𝐭 𝐀𝐚𝐤𝐡𝐫𝐢 𝐇𝐚𝐢
अजीब का प्यार था उसकी उदास आँखों में
महसूस तक न हुआ की मुलाक़ात आखरी है

𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐚 𝐍𝐚𝐚𝐦 𝐀𝐚𝐲𝐚 𝐀𝐮𝐫 𝐇𝐮𝐦 𝐓𝐚𝐤𝐧𝐞 𝐋𝐚𝐠𝐞 𝐑𝐚𝐬𝐭𝐚
𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐢 𝐘𝐚𝐚𝐝 𝐀𝐚𝐲𝐢 𝐀𝐮𝐫 𝐊𝐡𝐢𝐝𝐤𝐢 𝐊𝐡𝐨𝐥 𝐃𝐢 𝐇𝐮𝐦𝐧𝐞
तुम्हारा नाम आया और हम ताकने लगे रास्ता
तुम्हारी याद आई और खिड़की खोल दी हमने

𝐂𝐡𝐞𝐡𝐫𝐚 𝐇𝐚𝐬𝐞𝐞𝐧 𝐆𝐮𝐥𝐚𝐛𝐨 𝐒𝐞 𝐌𝐢𝐥𝐭𝐚 𝐉𝐮𝐥𝐭𝐚 𝐇𝐚𝐢
𝐍𝐚𝐬𝐡𝐚 𝐏𝐞𝐞𝐧𝐞 𝐒𝐞 𝐉𝐲𝐚𝐝𝐚 𝐓𝐮𝐦 𝐊𝐨 𝐃𝐞𝐤𝐡𝐧𝐞 𝐒𝐞 𝐂𝐡𝐚𝐝𝐡𝐭𝐚 𝐇𝐚𝐢
चेहरा हसीं गुलाबो से मिलता जुलता है
नशा पीने से ज्यादा तुम को देखने से चढ़ता है

𝐌𝐮𝐣𝐡𝐦𝐞 𝐁𝐞 𝐈𝐧𝐭𝐞𝐡𝐚 𝐌𝐨𝐡𝐚𝐛𝐛𝐚𝐭 𝐊𝐞 𝐒𝐢𝐰𝐚 𝐊𝐮𝐜𝐡 𝐁𝐡𝐢 𝐍𝐚𝐡𝐢
𝐓𝐮𝐦 𝐀𝐠𝐚𝐫 𝐂𝐡𝐚𝐡𝐨 𝐓𝐨 𝐒𝐚𝐧𝐬𝐨 𝐊𝐢 𝐓𝐚𝐥𝐚𝐬𝐡𝐢 𝐋𝐞𝐥𝐨
मुझमे बे इन्तहा मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं
तुम अगर चाहो तो सांसो की तलाशी लेलो

𝐃𝐢𝐥 𝐌𝐞 𝐓𝐮𝐦𝐡𝐚𝐫𝐢 𝐀𝐩𝐧𝐢 𝐊𝐚𝐦𝐢 𝐂𝐡𝐨𝐫 𝐉𝐚𝐲𝐞𝐧𝐠𝐞
𝐀𝐚𝐧𝐤𝐡𝐨 𝐌𝐞 𝐈𝐧𝐭𝐞𝐳𝐚𝐚𝐫 𝐊𝐢 𝐋𝐚𝐤𝐞𝐞𝐫 𝐂𝐡𝐨𝐫 𝐉𝐚𝐲𝐞𝐧𝐠𝐞
दिल में तुम्हारी अपनी कमी छोड़ जायेंगे
आँखों में इंतज़ार की लकीर छोड़ जायेंगे

𝐀𝐣𝐞𝐞𝐛 𝐊𝐚 𝐏𝐲𝐚𝐫 𝐓𝐡𝐚 𝐔𝐬𝐤𝐢 𝐔𝐝𝐚𝐬 𝐀𝐚𝐧𝐤𝐡𝐨 𝐌𝐞
𝐌𝐞𝐡𝐬𝐮𝐬 𝐓𝐚𝐤 𝐍𝐚 𝐇𝐮𝐚 𝐊𝐢 𝐌𝐮𝐥𝐚𝐤𝐚𝐭 𝐀𝐚𝐤𝐡𝐫𝐢 𝐇𝐚𝐢
अजीब का प्यार था उसकी उदास आँखों में
महसूस तक न हुआ की मुलाक़ात आखरी है

हर किसी कै किसमत मै ऐसा लिखा नही हौता .
हर मंजिल मै तैरै जैसा दौस्त का पाता नही मिलता
मैरी तकादीर हौगी कुछ खास
वरना तैरै जैसा यार मुझै कहा मिलता

दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो
तो इतिहास बनाती है

इतनी पीता हूँ कि मदहोश रहता हूँ
सब कुछ समझता हूँ पर खामोश रहता हूँ
जो लोग करते हैं मुझे गिराने की कोशिश
मैं अक्सर उन्ही के साथ रहता हूँ

नशा हम करते हैं
इलज़ाम शराब को दिया जाता है
मगर इल्ज़ाम शराब का नहीं उनका है
जिनका चेहरा हमें हर जाम में नज़र आता है

साथ ना रहने से रिश्ते टूटा नहीं करते
वक़्त की धुंध से लम्हे टूटा नहीं करते
लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया
टूटी नींद है , सपने टूटा नहीं करते

Leave a Comment